शिवसेना विधायक प्रताप सरनाइक के घर पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के पड़े छापे से बौखलाए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. ठाकरे ने कहा कि उन्हें उनके पास जाने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए. शुक्रवार को ठाकरे सरकार का एक साल पूरा हुआ है. उन्होंने कहा कि राज्य में जो राजनीतिक गतिविधियां हो रही हैं उन पर उनकी करीबी नजर है.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि केन्द्रीय एजेंसियों का देश में गलत इस्तेमाल किया जा रहा है और जिस तरीके से परिवारों को निशाना बनाया जा रहा है यह विपक्ष की बदले की राजनीति को जाहिर करता है.

पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ के एग्जक्यूटिव एडिटर और शिवसेना नेता संजय राउत को दिए इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे मुंबई निकाय चुनाव से लेकर सुशांत सिंह राजपूत केस में उनके परिवार को निशाना बनाए जाने, लव जिहाद, अन्वय नाईक केस और उनकी सरकार के प्रदर्शन और आगे की योजना तक कई मुद्दों पर खुलकर उन्होंने बात की.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि वह प्रतिशोध की राजनीति का सहारा नहीं लेना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि जब उन्हें ‘चुनौती’ दी जाती है तो वे ‘ऊर्जावान’ हो जाते हैं. उन्होंने कहा- हम बदले की राजनीति में नहीं पड़ना चाहते हैं लेकिन अगर आप मजबूर करोगे तो हम आपके इस प्रतिकारिता के खिलाफ सुदर्शन चक्र का इस्तेमाल करेंगे.