प्रवासी मजदूरों का पलायन रोकने राय में ही हो रोजगार की व्यवस्था – शकुन्तला रतेरिया

0
12

भाजपा नेत्री ने प्रदेश के मुखिया के सामने रखी मांग

रायगढ़। लॉक डाउन के कारण दूसरे रायों से वापस आए मजदूरों तथा अब भी देश के अन्य कई रायों में फंसे हुए छत्तीसगढ़ के मजदूरों के लिए उनके गृह नगर या क्षेत्र में रोजगार की व्यवस्था कराने की मांग जिले की भाजपा नेत्री शंकुतला रतेरिया ने सोशल मीडिया के माध्यम से की है। ताकि वे मजदूर अपने और अपने परिवार का न केवल भरण पोषण कर सकें बल्कि पलायन को भी तिलाजंलि दे सकें।

उन्होंने कहा कि पूरे भारतवर्ष में कोरोना वायरस के कारण अफरा-तफरी का माहौल बन चुका है सारे मजदूर वर्ग अपने कामकाज और रोजगार को छोड़कर वापस अपने घर की ओर पलायन होते नजर आ रहे हैं जिसके कारण उन मजदूरों के घर में आर्थिक संकट मंडराना शुरू हो गया है और बेरोजगारी और भुखमरी जैसे हालात बन गए हैं।

पूरे देश में कोरोना की समस्या तो बहुत ही गंभीर हो चुकी है, जहां देखो वहीं सोशल डिस्टेंसिंग और घर में रहने की सलाह दी जा रही है किंतु बेरोजगार हुए मजदूर को दोबारा रोजगार दिलाने की बात कोई नहीं कर रहा है। और बिना रोजगार के यह मजदूर अपने परिवार का लालन पालन कैसे कर पाएंगे उनका जीवन यापन कैसे चल पाएगा यह समस्या गंभीर होती जा रही है।

भाजपा नेत्री शकुन्तला रतेरिया ने कहा की छत्तीसगढ़ से बाहर काम की तलाश में गए हुए मजदूर अभी भी कई अन्य रायों में फंसे हुए हैं जो कि छत्तीसगढ़ के निवासी हैं इन्हें जल्द से जल्द छत्तीसगढ़ में वापस उनके घर तक पहुंचाया जाना चाहिए और छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार इन मजदूरों को उनके अपने ही छत्तीसगढ़ राय में रोजगार की व्यवस्था करानी चाहिए । जिससे इन गरीब मजदूरों को अपने घर परिवार को छोड़कर दूसरे रायों में न भटकना पड़े। जब अपने शहरों में ही रोजगार की व्यवस्था हो जाएगी तब यह मजदूर अपने परिवार के साथ रहकर अपने बूढ़े मां बाप की सेवा भी कर सकेंगे और अपने बचों को पूरा समय देकर उनकी शिक्षा और लालन पालन भी ठीक तरीके से कर सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here