मुख्यालय से नदारद और कार्य के प्रति लापरवाही बरतने पर सीईओ साहू और सहायक लेखाधिकारी अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी

0
16

सक्ती। जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरएस साहू व सहायक लेखाधिकारी रविकांत को कार्य पर लापरवाही बरतने एवं उच्चाधिकारियों की अवहेलना को लेकर सक्ती एसडीएम डॉ सुभाष सिंह राज ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है।
सीईओ जनपद सक्ती और रविकांत अग्रवाल सहायक लेखाधिकारी द्वारा कोविड 19 जैसे महामारी से बचाव के जारी सरकारी निर्देशों का लगातार मखौल उड़ाया जाता है, सीईओ को मुख्यालय में सरकारी आवास आबंटित होने के बाद भी मुख्यालय में ना रहकर अपने साथ ड्राइवर सहित जनपद के तीन संविदा कर्मचारियों को अपने वाहन में बैठा कर लाया जाता है। इस संबंध में समाचार प्रकाशित होने के बाद से आते समय कार्यालय से पहले बाकियों को उतार कर सिर्फ ड्राइवर के साथ आरएस साहू आते हैं। लेकिन जाते समय अपनी कार में पूरी तरह से भीड़ भरकर ले जाते हैं। वहीं अन्य राज्यों में कमाने गए मजदूरों की घर वापसी हो रही है जिसके लिए क्वारंटाईन सेंटर बनाया गया है जिसका नोडल अधिकारी सीईओ श्री साहू को बनाया गया है वहीं रविकांत अग्रवाल को भी क्वारंटाईन सेंटर की देख रेख करने एसडीएम सक्ती द्वारा निर्देशित किया गया है। लेकिन दोनों अधिकारी कार्य के प्रति लापरवाही बरत रहें है, जिसे देखते हुए एसडीएम ने दोनों अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। वहीं नोटिस में साफ तौर पर लिखा गया है कि सरकारी आवास आबंटित होने के बाद भी आप चाम्पा से आना जाना करते है, वहीं क्वारंटाईन सेंटर में आपको भोजन की व्यवस्था के लिए लगाया गया था लेकिन उक्त कार्य के प्रति उदासीनता और लापरवाही बरती जा रही है। लगातार सीईओ और सहायक लेखाधिकारी द्वारा छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम तथा छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (नियंत्रण) नियम 1966 का उल्लंघन किया गया है। पत्र प्राप्ति के तुरंत बाद स्पष्टीकरण मांगा गया है। यहां बताना लाज़मी होगा कि सीईओ आर एस साहू , सहायक लेखाधिकारी रविकांत, संविदा में संकाय सदस्य के पद पर पदस्थ जितेंद्र यादव और मनरेगा के सहायक प्रोग्रामर पीयूष पाण्डेय की चौकड़ी से पूरा का पूरा जनपद परेसान है वहीं सूत्रों की माने तो 14 वें वित्त, मनरेगा और मूलभूत की राशियों में इनके द्वारा काफी गोलमाल किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here