दिनेश दुबे
आप की आवाज
शहर के मध्य टूलेन सड़क निर्माण की धीमी गति से, लोगो की बढ़ी परेशानी, धूल के गुबार से बीमार हो रहे शहरवासी
किसान नेता ने यातायात दबाव कम करने शीघ्र बायपास निर्माण की मांग 
10 महीने में निर्माण पूर्ण करने की अवधि, 11 माह में बेस का निर्माण भी अधूरा
बेमेतरा—–शहर के मध्य 33 करोड़ की लागत से 5 किलोमीटर लम्बे टू लेन सड़क का निर्माण प्रगति पर है । निर्माण की धीमी गति से शहर के लोगो की परेशानी बढ़ती जा रही है । पूरी सड़क, निर्माण के नाम पर खोद दी गई है उक्त बातें किसान नेता योगेश तिवारी ने कही है । उन्होंने कहा कि यहां एक लेन सड़क का निर्माण कर, दूसरी लेन का निर्माण शुरू करना था, लेकिन ठेकेदार ने मनमानी करते हुए लगभग पूरी सड़क को उखाड़ दिया है । यह मार्ग भारी व्यस्त होने के कारण वाहनों की आवाजाही लगी रहती है । नतीजतन दिन रात धूल का गुबार सड़क किनारे स्थित लोगो के घरों व दुकानों में घुस रहा है ।  विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कार्यादेश मार्च 2020 से 10 महीने में निर्माण पूर्ण करना था, लेकिन 11 महीने में सड़क का बेस वर्क भी पूर्ण नही हो पाया है । इसी से कार्य की धीमी गति का अंदाजा लगाया जा सकता है । 
 हादसे का शिकार हो रहे लोग, अधिकारियो की चुप्पी पर खड़े हुए सवाल
किसान नेता के अनुसार एक बार पानी डालकर खानापूर्ति कर ली जा रही है । सड़क उखाड़ने के कारण नीचे की मिट्टी ऊपर आ गई है, ऐसी स्थिति में पानी डालने के बाद मार्ग से गुजर रहे दोपहिया वाहन चालक फिसलकर हादसे का शिकार हो रहे हैं । कई लोगो की गम्भीर चोट आई है, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है । इसके अलावा भारी मालवाहक के गुजरने से सड़क पर हुए गड्ढे भी जानलेवा साबित हो रहे हैं । इस ओर अधिकारी भी ध्यान नहीं दे रहे हैं । किसान नेता योगेश तिवारी ने कहा कि ठेकेदार व अधिकारियों को लोगो की परेशानी से कोई लेना देना नही है । निर्माण की गति काफी धीमी है । यहां अधिकारियों की चुप्पी पर सवाल खड़े हो रहे हैं । 
धूल के गुबार से लोग हो रहे परेशान,घण्टो लग रहा जाम
सड़क पर उठ रहे धूल के गुबार से लोग बीमार हो रहे हैं । लोगो को फेफड़े व श्वास सम्बधी रोग हो रहे हैं । काम की धीमी गति से लोगो की नाराजगी बढ़ती जा रही है । धूल के गुबार में सामने आ रहा वाहन नही दिखने से भी लोग हादसे का शिकार हो रहे हैं । वही अव्यवस्थित सड़क निर्माण व सूचना बोर्ड नही लगे होने के कारण दो ट्रक पलटकर हादसे का शिकार हो चुकी है । बावजूद प्रशासन को बड़े हादसे का इंतजार है । इसके अलावा लोगो को रोजाना घण्टो जाम का सामना करना पड़ रहा है । 
बायपास सड़क निर्माण जल्द पूरा करने की मांग, मालवाहकों की निकासी बाहर से हो
किसान नेता योगेश तिवारी ने कहा कि ग्राम चोरभट्टी से लेकर बैजी तक बन रहे बायपास सड़क का निर्माण पूर्ण होने के बाद, शहर के बीच सेटूलेन सड़क का निर्माण शुरू करना था । ताकि भारी मालवाहकों की निकासी बायपास सड़क से होती । लेकिन दोनों सड़क का निर्माण करीब एक ही समय मे शुरू कर लोगो की परेशानी बढ़ा दी गई है । उल्लेखनीय है कि  दोनों सड़क का निर्माण एक ही ठेकेदार द्वारा किया जा रहा है । इसके अलावा सम्बंधित ठेकेदार द्वारा आसपास की सभी बड़ी सड़को का निर्माण किया जा रहा है ।  नतीजतन मैनपावर व मशीने बटने से सड़कों का निर्माण काफी धीमी गति से हो रहा है । इसलिए शीघ्र बायपास निर्माण की मांग की जाएगी । 
नवीन काम्प्लेक्स का निर्माण शुरू नही, नतीजतन सड़क निर्माण में होगा विलम्ब
सड़क निर्माण के दायरे में आने वाले पालिका कांप्लेक्स को डिस्मेंटल किया जाना है । इस सम्बंध में विधायक को बैठक लिए करीब तीन माह हो चुके हैं, लेकिन नवीन दुकानों के निर्माण का निर्माण अब तक शुरू नही हो पाया है । क्योंकि बैठक में नवीन दुकानों के निर्माण के बाद ही पालिका काम्प्लेक्स के डिस्मेंटल का प्रस्ताव पर सहमति बनी थी । ऐसी स्थिति में आगामी 6 महीने में सड़क का निर्माण पूर्ण होना सम्भव नही दिख रहा है ।