स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड-19 की जांच और इलाज की व्यवस्थाओं की समीक्षा की…

0
13

आशीष तिवारी की कलम से

रायपुर:- स्वास्थ्य मंत्री टी. एस. सिंहदेव ने प्रदेश में कोविड-19 की जाँच और इलाज की व्यवस्थाओं पर समीक्षा की। उन्होंने राज्य कंट्रोल और कमांड सेंटर की बैठक में कोविड-19 के इलाज के लिए बनाए जा रहे विशेषीकृत अस्पतालों का काम जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने करोना वायरस के अधिक से अधिक संदिग्ध संक्रमितों की जाँच के लिए बिलासपुर, अम्बिकापुर और राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज में लैब की स्थापना के काम मे तेजी लाने कहा। अभी रायपुर के एम्स और डॉक्टर भीमराव अंबेडकर स्मृति चिकित्सालय तथा रायगढ़, जगदलपुर मेडिकल कॉलेज में कोरोना वायरस की आरटीपीसीआर जांच हो रही है।

कोविड- 19 के उपचार के लिए प्रदेश के 10 डेडीकैटेड अस्पतालों में 2000 बिस्तरों की व्यवस्था की जा रही हैं एम्स और डॉक्टर भीमराव अंबेडकर अस्पताल में
500-500, जगदलपुर और राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 200-200 तथा माना सिविल अस्पताल,बिलासपुर जिला अस्पताल,ई.एस.आई. इस
अस्पताल कोरबा, रायगढ़ व अम्बिकापुर शासकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल एवं शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज
भिलाई में 100-100 बिस्तरों पर कोरोना वायरस संक्रमितो के इलाज के इंतजाम किये जा रहे हैं। प्रदेश के 115 आइसोलेशन सेंटर्स में भी 5515 बिस्तर हैं, जहां कोविड-19 मरीजों का उपचार किया जा सकता है।

स्वास्थ्य मंत्री टी. एस. सिंहदेव ने बैठक में जांच किट ,पीपीई किट, वेंटिलेटर्स , एन-95 मास्क , ट्रीपल लेयर मास्क और सर्जिकल मास्क की उपलब्धता एवं आपूर्ति की भी समीक्षा की। उन्होंने कोविड-19 का इलाज कर रहे डॉक्टरों एवं संक्रमितों के देखभाल में लगे मेडिकल स्टॉफ को सभी आवश्यक संसाधन एवं व्यक्तिगत सुरक्षात्मक उपाय उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। बैठक में स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारीक सिंह, ओएसडी राजेश सुकुमार टोप्पो , संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़, संचालक चिकित्सा शिक्षा डॉ. एस. एल.आदिले, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला और नियंत्रक खाध एवं औषधि प्रशासन नीलेश श्रीरसागर सहित स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ट अधिकारी मौजूद थे।

PAPPU SONI
Latest posts by PAPPU SONI (see all)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here