देश में पिछले 24 घंटों में 95 लोगों की मौत, 60 हजार पहुंची संक्रमित मरीजों की संख्या

0
14

नई दिल्ली: देश में संक्रमित मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है. पिछले 24 घंटों में 95 लोगों की मौत हुई है.अबतक इस जानलेवा संक्रमण के करीब 60 हजार मामले सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों को मुताबिक अबतक 59 हजार 662 लोग संक्रमित हो चुके हैं. वहीं 1981 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि 17 हजार 847 लोग ठीक भी हुए हैं. जानें आपके राज्य में कोरोना वायरस का क्या हाल है.

Advertisement

किस राज्य में कितनी मौतें हुईं?

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 731, गुजरात में 449, मध्य प्रदेश में 200, राजस्थान में 101, दिल्ली में 68, उत्तर प्रदेश में 66, आंध्र प्रदेश में 41, पश्चिम बंगाल में 160, तमिलनाडु में 40, तेलंगाना में 29,  कर्नाटक में 30, पंजाब में 29,  जम्मू-कश्मीर में 9, हरियाणा में 8, केरल में 4, झारखंड में 3, बिहार में 5, हिमाचल प्रदेश में दो, ओडिशा में दो, चंडीगढ़, असम और मेघालय  में एक मौत हुई है.

216 जिलों में कोरोना वायरस का कोई मामला नहीं

बता दें कि देश के 216 जिलों में कोरोना वायरस का अब तक कोई मामला सामने नहीं आया है. वहीं, 42 जिलों में पिछले 28 दिन से और 29 जिलों में पिछले 21 दिन से कोविड-19 का कोई नया मामला नहीं आया है. 36 जिले ऐसे हैं, जहां पिछले 14 दिन में कोविड-19 का कोई नया मामला नहीं आया है. वहीं, 46 जिलों में पिछले सात दिन से कोरोना वायरस संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है.

आईसीएमआर ‘कॉन्वेलसेंट प्लाजमा थेरेपी’ के सुरक्षित होने और इसके वांछित नतीजे देने का आकलन करने के लिये 21 अस्पतालों में चिकित्सीय परीक्षण करेगी. जिन अस्पतालों में ये परीक्षण होने हैं, उनमें से पांच महाराष्ट्र में हैं जबकि गुजरात में चार, राजस्थान, तमिलनाडु, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश में चार-चार और कर्नाटक, चंडीगढ़, पंजाब, तेलंगाना में एक-एक हैं.

अमेरिका में फंसे भारतीयों की आज से शुरू होगी स्वदेश वापसी

अमेरिका में फंसे भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाने के लिए आज से सात विशेष उड़ानें संचालित की जाएंगी. विशेष सात विमानों में सीमित संख्या में सीटें उपलब्ध होने के कारण भारतीय नागरिकों के नामों को चुनने के लिए कम्प्यूटर पर एक ड्रॉ निकाला जाएगा. भारत सरकार ने सोमवार को विदेशों में फंसे अपने नागरिकों को सात मई से स्वदेश लाने के लिए एक चरणबद्ध योजना शुरू करने की घोषणा की थी.

एयर इंडिया कोविड-19 लॉकडाउन के बीच विदेश में फंसे करीब 15,000 भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए 7 मई से 13 मई के बीच 64 उड़ानें संचालित करेगी. विदेश में फंसे भारतीयों को वापस लाने के लिए इस अभियान का नाम वंदे भारत मिशन रखा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here