नई दिल्लीः हाथों में ‘लाल झोली’, दक्षिण भारतीय कलाओं की पारम्परिक साड़ी और मुख पर मुस्कान लिए तमिलानाडु की यह महिला भारत की केंद्रीय वित्त मंत्री हैं. अपनी सूझबूझ, सुलझे हुए व्यक्तित्व और राजनैतिक कौशल से मोदी सरकार में वित्त मंत्री का पद संभाल रहीं सीतारमण देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री हैं. वाकपटुता और उम्दा सोच के कारण ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निर्मला सीतारमण पर अपना भरोसा जताया और उन्हें वित्त विभाग की जिम्मेदारी देते हुए इसका मुखिया बनाया.

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) से इकोनॉमिक्स में मास्टर्स करने वाली सीतारमण ने इंडो-यूरोपियन टेक्सटाइल ट्रेड में अपनी रिसर्च किया और पीएचडी की डिग्री हासिल की. तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली से पढ़ाई शुरू करने वाली निर्मला को शुरुआती दिनों में काफी स्कूल बदलने पड़े

पिता की नौकरी रेलवे में थी इस कारण उनका ट्रांसफर होते रहते थे. स्कूल के दिनों में वह पिता के साथ रहती थीं इस कारण उन्हें भी अपने पिता के साथ जाना होता था. यही कारण है कि उन्हें राज्य के कई स्कूलों में पढ़ने का मौका मिला.

बहुत जल्द बनी पार्टी में प्रवक्ता

इकोनॉमिक्स में अपनी ग्रेजुएशन कर निर्मला ने जेएनयू की राह पकड़ी और फिर यहां से जब पढ़ाई कर निकलीं तो कभी पीछे मुड़कर नहीं देखीं. एक के बाद एक सफलता की सीढ़ियां चढ़ते हुए निर्मला सीतारमण ने कई मुकाम हासिल किए. साल 2008 में बीजेपी से जुड़ने वाली निर्मला सीतारमण मात्र 11 साल बाद देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री बन गईं.

साल 2008 में राजनीति में एंट्री लेने के दो साल बाद यानि 2010 में पार्टी ने उन्हें प्रवक्ता के पद पर काम करने का मौका दिया. इस मौके को सीतारमण ने बखूबी भुनाया और पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं से लेकर मीडिया के जरिए देश में उन्होंने अपनी एक अलग साख बनाई.

शानदार काम का मोदी सरकार ने दिया ईनाम

साल 2014 में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नीत एनडीए की सरकार बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय (राज्य मंत्री) का कार्यभार सौंपा. मंत्री बनने के बाद निर्मला सीतारमण को आंध्र प्रदेश के कोटे से राज्यसभा भेजा गया.

सीतारमण को वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय में शानदार काम करने का ईनाम मिला और 3 सितंबर 2017 को उन्हें देश की रक्षा का बागडोर दिया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में निर्मलासीतारमण को रक्षा मंत्री बनाया गया. इंदिरा गाधी के बाद सीतारमण देश की दूसरी महिला रक्षा मंत्री बनीं.

पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री

अपनी कार्यकुशलता के कारण वह लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विश्चवास जीतती जा रही थी. यही कारण रहा कि इकोनॉमिक्स की क्षेत्र में काफी काम कर चुकीं निर्मला सीतारमण को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहम जिम्मेदारी दी और वित्त मंत्री बनाया.

निर्मला सीतारमण देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री हैं. इससे पहले प्रधानमंत्री रहते हुए इंदिरा गांधी भी वित्त मंत्रालय का प्रभार संभाल चुकी हैं. निर्मला सीतारमण आज तीसरी बार बटज पेश कर रही हैं जो कि अपने आप में रिकॉर्ड है.