कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 90 हजार के पार

0
11

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में हर दिन तेजी से इजाफा हो रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब इस महामारी से संक्रमित मरीजों की संख्या 2 लाख करीब हो गई है. मंत्रालय के मुताबिक, अबतक 1 लाख 90 हजार 535 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. इसमें 5394 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि 91819 लोग ठीक भी हुए हैं. पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के मामलों में 8392 की बढ़त हुई और 230 मौतें हुईं.

किस राज्य में कितनी मौतें हुईं?
स्वास्थय मंत्रालय के मुताबिक, महाराष्ट्र में 2286, मध्य प्रदेश में 350, गुजरात में 1038, दिल्ली में 473, तमिलनाडु में 173, तेलंगाना में 82, आंध्र प्रदेश में 62, कर्नाटक में 51, उत्तर प्रदेश में 213, पंजाब में 45, पश्चिम बंगाल में 317, राजस्थान में 194, जम्मू-कश्मीर में 28, हरियाणा में 20, केरल में 9, झारखंड में 5, बिहार में 21, ओडिशा में 7, असम में 4, हिमाचल प्रदेश में 5, मेघालय में 1 मौत हुई है.

राज्यवर आंकड़ें

क्रमांक राज्य का नाम कोरोना के कुल मामले (11 विदेशी नागरिक शामिल)
ठीक हुए/डिस्चार्ज हुए मौत
1 अंडमान निकोबार 33 33 0
2 आंध्र प्रदेश 3679 2349 62
3 अरुणाचल प्रदेश 4 1 0
4 असम 1272 185 4
5 बिहार 3815 1710 21
6 चंडीगढ़ 293 199 4
7 छत्तीसगढ़ 498 115 1
8 दिल्ली 19844 8478 473
9 गोवा 70 42 0
10 गुजरात 16779 9919 1038
11 हरियाणा 2091 1048 20
12 हिमाचल प्रदेश 331 120 5
13 जम्मू कश्मीर 2446 927 28
14 झारखंड 610 256 5
15 कर्नाटक 3221 1218 51
16 केरल 1269 590 9
17 लद्दाख 74 43 0
18 मध्य प्रदेश 8089 4842 350
19 महाराष्ट्र 67655 29329 2286
20 मणिपुर 71 11 0
21 मेघालय 27 12 1
22 मिजोरम 1 1 0
23 ओडिशा 1948 1126 7
24 पुद्दुचेरी 70 25 0
25 पंजाब 2263 1987 45
26 राजस्थान 8831 5927 194
27 तमिलनाडु 22333 12757 173
28 तेलंगाना 2698 142882 26
29 त्रिपुरा 313 173 0
30 उत्तराखंड 907 102 5
31 उत्तर प्रदेश 7823 4709 213
32 पश्चिम बंगाल 5501 2157 317
भारत में कुल मरीजों की संख्या 190535 91819 5394

आज से पटरी पर उतरी 200 रेगुलर ट्रेन
रेल मंत्री पीषूय गोयल ने एक जून से जिन 200 स्पेशल ट्रेनों को चलाने का एलान किया थो वो ट्रेनें रात बारह बजे के बाद से ही चलनी शुरू हो गई हैं. रेलवे के मुताबिक पहले दिन 200 स्पेशल ट्रेनों से करीब एक लाख 45 हजार यात्री सफर करेंगे. अगर पूरे महीने यानी 30 जून तक की बात करें तो अब तक 26 लाख लोग टिकटों की एडवांस बुकिंग करा चुके हैं.

कोरोना की वजह से अभी तक सिर्फ मालगाड़ी, श्रमिक ट्रेनें और 15 रूट्स पर 30 स्पेशल एसी ट्रेनें ही चलाई जा रही थीं. श्रमिक ट्रेनों का मकसद तो मजदूरों को घर पहुंचाना है लेकिन 12 मई से जो स्पेशल ट्रेनें चल रही हैं, उसका किराया राजधानी ट्रेनों के बराबर होने से ये आम लोगों के पहुंच से दूर थीं, अब जब भारतीय रेल ने एसी, नॉन-एसी क्लास और जनरल क्लास वाली 200 ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है तो गरीब और मध्यवर्गीय परिवारों को भी अपने गंतव्य तक पहुंचने में आसानी होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here