कलेक्टर सिंह ने ली समय-सीमा की बैठक

रायगढ़ । कलेक्टर भीम सिंह ने समय-सीमा की बैठक ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि आगामी त्यौहारों के समय को देखते हुये जिले में कोरोना नियंत्रण के लिये अगले एक माह तक सघन अभियान चलाकर कोविड प्रोटोकाल का पालन सुनिश्चित करवायें। उन्होंने केरल और महाराष्ट्र का उदाहरण देते हुये बताया कि इन राज्यों में क्रमश: ओणम और गणेश उत्सव त्यौहारों के पश्चात कोरोना के मामलों में काफी बढ़ोत्तरी देखी गई। अत: ऐसी स्थिति यहां न निर्मित हो इसके लिये हमें अगले एक माह तक नागरिकों से गाईड लाइन्स का पालन करवाने के लिये विशेष रूप से कार्य करना होगा। नगरीय के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में मास्क न पहनने वालों पर कार्यवाही की जाये।

साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग व दुकानों के खुलने व बंद होने के लिये निर्धारित समय का पालन न करने वाले प्रतिष्ठानों पर भी नियमानुसार कार्यवाही की जाये। इसके साथ ही भीड़ वाली दुकानों जैसे पेट्रोल पंप, पीडीएस दुकान, बैंक में होर्डिंग लगवाया जाये व उन्हें निर्देशित करें कि बिना मास्क के सामान न दिया जाये। ग्रामीण क्षेत्रों में भी त्यौहारों के मद्देनजर मैदानी अमले व स्थानीय जनप्रतिनिधियों के माध्यम से कोरोना के संबंध में प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाये। बैठक में उन्होंने एनएच विभाग के अधिकारी से रायगढ़-सारंगढ़ मार्ग के निर्माण कार्य की जानकारी ली। जिस पर अधिकारी ने बताया कि सारंगढ़ बाईपास पर निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है।

कलेक्टर सिंह ने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुये सभी पशुपालकों का पंजीयन शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये। गौठान में निर्मित खाद का सेम्पल टेस्टिंग के लिये भेजकर जल्द रिपोर्ट मंगवाये और खाद की पैकेजिंग कर विक्रय का कार्य आगे बढ़ाये। उन्होंने विभिन्न विभागों जिनमें खाद की जरूरत है उनसे भी अपनी डिमांड कृषि विभाग को भेजने के निर्देश दिये। धान खरीदी हेतु तैयारियों की समीक्षा के दौरान सभी एसडीएम को निर्देशित किया कि पटवारियों की सहकारी समिति में तैनाती कर ऑनलाईन पंजीयन का कार्य 31 अक्टूबर तक पूर्ण कर लिया जाये। ऑनलाईन समस्या आने पर तत्काल एनआईसी को सूचित कर उसका निराकरण करवायें। नयी बनी 5 समितियों में भी चबूतरा निर्माण का कार्य 15 नवम्बर तक पूर्ण करने के लिये कहा। खरीदी के लिये खाद्य विभाग को बारदानों की उपलब्धता बनाये रखने के निर्देश दिये।

व्यक्तिगत वन अधिकार पत्र के तहत हितग्राहियों को मिट्टी मूलक कार्य के अंतर्गत भूमि समतलीकरण व डबरी निर्माण के कार्य प्रारंभ करवाने के लिये कहा। इसके लिये उन्होंने रोजगार सहायक के माध्यम से विस्तृत प्रपत्र में सर्वे करवाने के निर्देश दिये। वन विभाग को समान उत्पाद आधारित गांवों का क्लस्टर बनाकर प्रोसेसिंग यूनिट तैयार करने हेतु कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिये। सामुदायिक बाड़ी व मुनगा प्रोसेसिंग प्लांट का कार्य भी आगे बढ़ाने हेतु निर्देशित किया। नरवा विकास के अंतर्गत राजस्व व वन क्षेत्र में स्थित नालों के संवर्धन हेतु कार्ययोजना बनाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये।

कलेक्टर सिंह ने आबकारी अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि शराब दुकान के बाहर सीसी टीवी लगवाये जाये और वहां साफ-सफाई बनाये रखें, कोविड प्रोटोकाल का भी अनिवार्य रूप से पालन करवाया जाये। बैठक में एडीएम राजेन्द्र कटारा, सीईओ जिला पंचायत सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। साथ ही सभी एसडीएम एवं तहसीलदार वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जुड़े रहे।