प्रवासी मजदूरों की वापसी: रेलवे ट्रैक व सड़कों में लगातार हादसे के बाद गृह मंत्रालय का राज्य सरकारों को फरमान सड़क-रेलवे ट्रैक पर न चलने दें मजदूरों को

0
9

रायपुर। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रमुख सचिवों को चिट्ठी लिखकर यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि उनके यहां पर प्रवासी मज़दूर सड़कों या रेलवे ट्रैक पर न चलें, प्रवासी मज़दूरों के घर जाने की व्यवस्था केवल बसों या श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के ज़रिए होनी चाहिए.गृह मंत्रालय के ख़त में लिखा है कि अगर कोई प्रवासी मज़दूर सड़क पर जाते हुए पाया जाता है तो उसे क़रीबी शेल्टर होम में रखा जाए, उसको खाना-पानी मुहैया कराया जाए.गृह मंत्रालय ने कहा है कि जिन राज्यों में प्रवासी मज़दूर फंसे हुए हैं उन्हें बसों या श्रमिक स्पेशल ट्रेन के ज़रिए ही उन्हें उनके घर भेजा जाए. यह भी साफ़ किया गया है कि फंसे हुए मज़दूरों को उनके घर भेजने की ज़िम्मेदारी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों की है. इस ख़त में लिखा गया है कि रेल मंत्रालय राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की मदद से 100 से अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेनें हर रोज़ चला रही है इसलिए मज़दूरों के जाने की व्यवस्था केवल बसों या श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के ज़रिए होनी चाहिए.

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here