खुलने वाले हैं देश भर के प्रमुख मंदिरों के कपाट, दर्शन के लिए करना होगा इन नियमों का पालन

0
10

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सभी तरह के धार्मिक स्थलों को बंद कर दिया गया था. लेकिन अब सोमवार से भक्त मंदिरों में दर्शन कर सकेंगे. केंद्र सरकार द्वारा धार्मिक स्थलों को 8 जून से खोलेने की मंजूरी दे दी गई है. कपाट खुलने के बाद भक्तों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना और मास्क लगाना अनिवार्य होगा. साफ सफाई का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा.

उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर 

मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकालेश्वर मंदिर 79 दिनों तक बंद रहने के बाद 8 जून को भक्तों के लिए खोल दिया जाएगा. लेकिन भक्त अभी ऐसे ही अंदर नहीं जा सकेंगे उन्हें ऐप या टोल-फ्री नंबर के माध्यम से एक स्लॉट बुक करना होगा. श्रद्धालुओं को सैनिटाइजर से हाथ धुलवाकर ही मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा.

महाकालेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति के सहायक प्रशासक एस के तिवारी ने शुक्रवार को कहा, “भक्तों को सुबह 6.30 से शाम 8.15 बजे के बीच मंदिर में दर्शन करने की अनुमति होगी.” वे रविवार को बुकिंग शुरू करने के लिए एक ऐप और हेल्पलाइन नंबर शुरू करेंगे. हालांकि, भक्तों को भस्मारती अनुष्ठान में शामिल होने या गर्भगृह में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

तिरुमाला का भगवान वेंकटेश्वर मंदिर

तिरुमाला में भगवान वेंकटेश्वर मंदिर भी 8 जून से खुल जाएगा. आठ जून से दो दिनों तक ट्रायल रन होगा जिसमें केवल तिरुपति तिरुमाला देवस्थानम के कर्मचारियों को अनुमति दी जाएगी.

10 जून को, मंदिर प्रशासन केवल तिरुमाला के निवासियों को अनुमति देगा. 11 जून से, कंटेनमेंट जोन के लोगों को छोड़कर देश भर के भक्तों को प्रवेश की अनुमति होगी. हर घंटे 500 भक्तों के साथ प्रतिदिन केवल 6,000 भक्तों को ही अनुमति दी जाएगी.

यूपी सरकार ने भी दी इजाजत

इसके अलावा यूपी सरकार भी 8 जून से धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति देगी, लेकिन प्रमुख मंदिर प्रशासन के पास मंदिरों को खोलने की अलग योजना है. वाराणसी का काशी विश्वनाथ मंदिर सोमवार को खुलेगा, मथुरा में मंदिर प्रबंधन ने कहा है कि वे तब तक नहीं खोल सकते जब तक उन्हें पुलिस सुरक्षा नहीं मिलती.

वाराणसी के काशी विश्वनाथ में भक्त कर सकेंगे बाबा के दर्शन

लंबे अंतराल के बाद श्रद्धालु कैसे बाबा विश्वनाथ के दर्शन करेंगे, इसको लेकर तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं. मंदिर परिसर में कोरोना से बचाव के व्यापक इंतजाम किए जा रहे हैं. इस दौरान भक्तों का गर्भगृह में प्रवेश वर्जित होगा.मंदिर परिसर में 2 मीटर की दूरी पर मार्किंग की गई है, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन किया जा सके. इसके साथ ही, मंदिर परिसर में होने वाले प्रत्येक पांच आरती के पहले सैनेटाइजिंग की व्यवस्था है.

अयोध्या में खुलेगा हनुमानगढ़ी मंदिर, राम लल्ला के दर्शन भी कर पाएंगे भक्त

अयोध्या में, प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर सोमवार को खुलेगा और भक्त राम लल्ला के दर्शन भी कर सकते हैं. राज्य सरकार द्वारा शुक्रवार को निर्देश जारी किए गए थे कि प्रवेश द्वार पर सभी धार्मिक स्थलों पर हैंड सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनर और पल्स ऑक्सीमीटर होना चाहिए ताकि भक्तों को तापमान या ऑक्सीजन के स्तर के लिए स्कैन किया जा सके.

कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते संक्रमण के चलते सभी तरह के धार्मिक स्थलों, उद्योग, धंधों को बंद कर दिया गया था. बता दें कि पूरे देश में 25 मार्च से ही लॉकडाउन है. अब तक लॉकडाउन के चार चरण पूरे हो चुके हैं. पांचवा चरण शुरू हो चुका है जिसे अनलॉक 1.0 नाम दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here