डेंजर ज़ोन है शनि मंदिर स्थल,आयुक्त ने श्रमिको को समझाया

राजगढ़।  जिला कलेक्टर के निर्देशन में नगर निगम आयुक्त ने श्रम विभाग एवं नगर निगम की टीम के साथ शनि मंदिर स्थल में एकत्रित मजदूरों को उनके हित में स्थान परिवर्तन हेतु सहयोग की अपील की।    

ज्ञात हो कि आज बुधवार को जिला कलक्टर भीम सिंह के आदेश अनुसार नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडे ने श्रम विभाग एवं निगम अमला के साथ शनि मंदिर स्थान पर बैठने वाले मजदूरों को जूट मिल बस स्टैंड में व्यवस्थित करने सहयोग हेतु अपील की। क्योंकि यह स्थल अंधा मोड़ के साथ कोविड 19 के खतरे से भरा हुआ है। यहां हर रोज 300 से 400 श्रमिक बगैर सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क में रहते हैं इस प्रकार उन्हें उसी स्थान से कल बस स्टैंड करना ही कारगर होगा।

कुछ श्रमिक वहां से जाने का विरोध कर रहे थे किंतु उन्हें समझाया गया कि सर्व सुविधा के साथ कल विश्वकर्मा जयंती के पावन अवसर पर सभी को वहां शिफ्ट किया जाएगा वैसे भी श्रमिकों की आवश्यकता जिसे होगी वह उन तक पहुंच जाते हैं ।बहरहाल श्रमिकों के हित को ध्यान में रखते हुए शिफ्टिंग की तैयारी की जा रही है आज निरीक्षण दौरान श्रम विभाग से पटेल एवं निगम से सहायक स्वास्थ्य अधिकारी भूपेश सिंह,स्वास्थ्य निरीक्षक राजीव पांडे,वाहन विभाग से रमेश ताँती, पीआई यू प्रहलाद तिवारी उपस्थित रहे।

आयुक्त आशुतोष पांडे ने बताया कि मजदूरों को पहले भी बताया गया था वह जाने को तैयार नहीं थे किंतु उस स्थल पर रोड एक्सीडेंट एवं सोशल डिस्टेंसिंग ना होने के कारण खतरा हमेशा बना हुआ है अर्थात दूसरा कोई रास्ता नहीं है जिस तरह से हमने सब्जी वाले एवं अन्य लोग को व्यवस्थित किया है और वे लगातार सहयोग भी कर रहे हैं यह जो श्रमिक वर्ग हैं इन्हें भी सहयोग करना पड़ेगा वैसे भी श्रमिक वर्ग से जिसे काम लेना है वह उनके पास जाएगा ।

यह एक तरह का कुआं है प्यासा कुएं के पास जाता है जिसे समय की आवश्यकता है वह जरूर जाएगा उनके लिए सुरक्षित स्थान जूट मिल बस स्टैंड है जहाँ उन्हें शिफ्ट किया जा रहा है कलेक्टर महोदय के निर्देशन में आज श्रम विभाग एवं नगर निगम की टीम शनि मंदिर मजदूरों के स्थान परिवर्तन के लिए गए हुए थे लगातार यह देखा जा रहा है कि बगैर सोशल डिस्टेंसिंग के 300 से 400 की संख्या में श्रमिक वहां खड़े रहते हैं साथ ही वह अंधा मोड़ है जिसके कारण अक्सर दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है महिलाएं एवं उनके साथ छोटे बच्चे भी रहते हैं इसे देखते हुए उनके लिए आवंटित स्थल जूट मिल बस स्टैंड है वहां उन्हें शिफ्ट करने के लिए तैयारी की गई है काउंसलिंग भी की गई कल विश्वकर्मा जयंती के उपलक्ष में उन्हें जगह मिल जाएगी जो सुविधा उन्हें चाहिए निगम मुहैया कराएगी, साथ ही शेड की स्वीकृति माननीय विधायक महोदय के द्वारा दी गई थी जिसे वहां लगाने हेतु निवेदन किया जाएगा जिससे अधिक से अधिक श्रमिकों को इकट्ठा होने में मदद मिलेगी।