पृथ्वी पर सभी तरह के लोग रहते हैं। यह पर हर इंसान का एक कॉपी पाया जाता है। एक अजबोगरीब मामला अमेरिका से आया है। यहां की रहने वाली युवती कियानी एरोयो एक मिशन पर है। कियानी के पेरेंट्स लेस्बियन है। वहीं कियानी स्पर्म डोनर( Sperm Donation) की मदद से पैदा हुई है। जहां वह ठान ली है कि विश्व में अपने भाई और बहन को ढूंढ निकालेगी। ताकि वह उनके संपर्क में रह सके। द मिरर वेबसाइट को कियानी ने बताया कि जब वह 4 साल की थी तो वह अपने साथ के बच्चों को देखती थी। जहां पर उन बच्चों के पास मां और बाप दोनों एक पेरेंट्स के तौर पर थे। लेकिन उसके परिवार में पेरेंट्स के तौर पर सिर्फ दो मांएं। कियानी आगे बताती है कि जब वह दूसरे के पिता को देखती थी तो उनका भी मन होता था कि मेरे भी एक ऐसा परिवार हो। लेकिन कियानी की मां का फैमिली ऐसा नहीं था। कियानी बताती कि वह हमेशा से यह सोचती थी कि आखिर मेरे को अपने पिता से कौने सी चीज मिली है।

कियानी आगे बताती है कि स्पर्म बैंक के रजिस्टर पर साइन किया था जहां पर उन्हें इस बात की जानकारी हुई की उनेक और भी भाई बहन है जिसके बाद वह उन्हे ढूंढने लगी। इसकी शुरुआत कियानी 15 साल की उम्र से कर दी थी। वह बताती है कि जब वह छोटी थी तो उन्हे एक ऐसे परिवार से संपर्क हुआ जिसमें सिर्फ दो महिलाएं थी। उनकी दो जुड़वां बच्चियां थीं और वे मुझसे छोटी थीं। बाद में मुझे पता चला कि यह दोनों बच्चियां भी मेरी तरह डोनर से पैदा हुई थी। यही से वह भाई-बहनों को ढूंढने का फैसला कर ली। अबतक कियानी अपने 63 भाई-बहनों से मिल चुके हैं। जिसमें से कुछ अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में हैं। फिलहाल अभी कियानी का यह मिशन खत्म नहीं हुआ है। यह मिशन अभी भी जारी है।