रिपोर्ट – अतुल कुमार तिवारी
आपकी आवाज, न्यूज़
प्रतापगढ़, उत्तर प्रदेश

जिला प्रतापगढ़-

देश में कोरोना महामारी के समय कोरोना योद्धाओं द्वारा अपनी जान जोखिम में डालकर देश के लिए एवं जरूरतमंद लोगों के लिए अपने कार्य को पूरी ईमानदारी के साथ किया जा रहा है… वहीं दूसरी तरफ असामाजिक तत्वों व दबंगों द्वारा महिला अधिकारी को जान से मारने की धमकी दी जा रही है…

केंद्र प्रभारी अरुणा कुमारी उपाध्याय मार्केटिंग इंस्पेक्टर सड़वा चन्द्रिका प्रतापगढ़, को गेहूं खरीद सेंटर सड़वा चंद्रिका पर ड्यूटी के समय सरकारी कार्य में बाधा डालते हुए महिला अधिकारी के नंबर पर कॉल करके जान से मारने की धमकी दी गयी, यह धमकी मनोज सिंह ठेकेदार के प्रतिनिधि रियाज के पुत्र फैज द्वारा जान से मारने की दी गई धमकी फैज खमपुर के रहने वाले है,
गेहूं खरीद सेंटर पर किसान सुबह से खरीद करवाने के लिए लगातार आ रहे है, जगह न होने की वजह से ट्रक लोड कराया गया ट्रक संख्या UP72E 9730 सूफियान ड्राइवर और किसानों के सामने दूरभाष पर स्पीकर चालू था ट्रक चढ़ा के जान से मारने की दी गई धमकी फैज द्वारा महिला अधिकारी को सरकारी कार्य ड्यूटी के समय जान से मारने की धमकी दी गयी…
गुप्त लोगों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार लगातार कई बार कुछ असामाजिक तत्वों एवं कुछ दबंग लोगों द्वारा मार्केटिंग इंस्पेक्टर महिला अधिकारी को धमकी दी जा रही है और ऐसे घटना की शिकायत भी कई बार प्रशासन से की गयी अगर अब महिला अधिकारी के साथ कुछ भी ऐसी घटना घटित होती है उनके साथ कुछ भी गलत होता है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा यह सवाल हम शासन व प्रशासन से करते हैं…??
हम शासन और प्रशासन से यह पूछते हैं कि आखिर कब तक प्रतापगढ़ में ऐसा गुंडाराज चलता रहेगा कि वहां के असामाजिक तत्व एवं दबंग लोग आम आदमी के साथ-साथ, सरकारी अधिकारियों को भी ड्यूटी के समय जान से मारने की धमकी देते रहेंगे,, हम सभी प्रतापगढ़ प्रशासन एवं उत्तर प्रदेश शासन से यही मांग है कि जल्द से जल्द ऐसे असामाजिक तत्व एवं दबंगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें जिससे आम आदमी एवं सरकारी अधिकारी बिना डरे अपना कार्य अच्छे से कर सकें…!!!